प्रधानाचार्य जी का सन्देश

प्रधानाचार्य की कलम से ........

मानव जीवन को विकसित करने के लिये शिक्षा एक ऐसा माध्यम है। जिसके द्वारा यह देश अपने हजारों साल की संस्कृति को संजोकर एवं भविष्य में दुनिया के विकसित देशों के व्यक्तियों के साथ कदम से कदम मिलाकर चल सकेगा। हमारा निश्चय है, कि हम अपने विद्यार्थियों को उत्कृष्ट शिक्षा केन्द्र प्रदान करें।
हमारा संस्थान ऐसा हो जो उत्तम शैक्षणिक आधारभूत संरचना और सर्वश्रेष्ठ नैतिक मूल्यों द्वारा ज्ञानार्जन के साथ अनुशासन व चरित्र निर्माण में सहयोग प्रदान करें। अध्यापकगण, छात्र एवं छात्राएं इस शताब्दी के महायज्ञ में कदम से कदम मिलाकर आगे बढ़े और अपने देश एवं समाज को परम वैभव प्रदान करते हुए विश्व गुरु बनाये ।